…जहाँ ‘बुलेट’ मोटरसाइकिल की पूजा होती है !

अगर आप सड़क मार्ग से जोधपुर से पाली की ओर जा रहे हों तो नगर से मात्र २० मिनट पहले एक मंदिर तथा उस पर जमा भक्तों की भीड़ में आप भी शामिल हो सकते हैं, जहाँ रॉयल एन फील्ड की बुलेट मोटरसाइकिल की पूजा की जाती है. आस्था और अन्धविश्वास के इस मंदिर में… Continue reading …जहाँ ‘बुलेट’ मोटरसाइकिल की पूजा होती है !

Advertisements

श्री भाग्वतकथा का उद्भव स्थल– शुक्रताल

दिल्ली से हरिद्वार या देहरादून जाते समय लगभग १२० किलोमीटर पर आपको मुजफ्फरनगर बाई पास से गुजरना होता है. इस रूट पर मोरना-बिजनोर की सड़क पर चलते हुए कुल २६ किलोमीटर की यात्रा में आप शुक्रताल पहुँच सकते हैं.

Magnificient Church of Mary, Built by Begum Sumru of Sardhana

Meerut, a prominent town of western part of Uttar Pradesh, is very close to the national capital of Delhi, at less than 60 kilometers. It is a historical city which find its mention in the epic period of Mahabharata and where the revolt of 1857 against the British rule was ignited by Mangal Pandey. The… Continue reading Magnificient Church of Mary, Built by Begum Sumru of Sardhana

लखनऊ में नवाब आसिफ-उद-दौला की बाउली का आँखों देखा हाल…

इमामबाड़े की दूर तक फैली सीढ़ियां तथा बाईं ओर शाही बावली और दाईं और नायाब मस्जिद के चित्र तत्कालीन वास्तुकला की भव्यता का सजीव चित्रण कर रहे थे. मैंने जूते उतारकर इमामबाड़े का विचरण किया और पाया कि वास्तुविद ने उसके भव्य निर्माण में किसी भी तरह की कोई कमी नहीं छोड़ी है. इतनी भव्यता तो आजकल के भवनों में भी आसानी से देखने को नही मिलती है.